क्या आप भी खरीदना चाहते हैं सस्ता सोना,जानिए कैसे करे खरीदारी, एक्स्ट्रा डिस्काउंट के लिए अपनाये ये टिप्स

अगर आपको भी गोल्ड में निवेश करना पसंद है पर उसकी सुरक्षा के लिए आप उसमें निवेश नहीं करते हैं तो आपको बता दें कि अब आप डिजिटल गोल्ड में भी निवेश कर सकते हैं। आज से सरकार सस्ता सोना बेचने वाले हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने डिजिटल गोल्ड में निवेश को बढ़ावा देने के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना शुरू की है।

soverign gold

अगर आपको भी गोल्ड में निवेश करना पसंद है पर उसकी सुरक्षा के लिए आप उसमें निवेश नहीं करते हैं तो आपको बता दें कि अब आप डिजिटल गोल्ड में भी निवेश कर सकते हैं। आज से सरकार सस्ता सोना बेचने वाले हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने डिजिटल गोल्ड में निवेश को बढ़ावा देने के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना शुरू की है।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना 2023-24 सीरीज-4 निवेश के लिए आज से खुल रही है। यह स्कीम 16 फरवरी 2024 को बंद हो जाएगी। इस स्कीम में निवेशक 6,263 रुपये प्रति ग्राम में बेचा जाएगा। इस स्कीम की खासियत यह है कि इसमें जीएसटी नहीं लगता है। इसके अलावा इसमें निवेश के बाद अच्छा रिटर्न भी मिलता है।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में रिटर्न काफी अच्छा मिलता है इस वजह से हर सीरीज में इसके निवेशकों की संख्या में तेजी देखने को मिली है।

मिलेगा एक्सट्रा डिस्काउंट

अगर कोई निवेशक ऑनलाइन सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड खरीदते हैं तो आपको 50 रुपये प्रति ग्राम पर डिस्काउंट मिलता है। यह डिस्काउंट बॉन्ड के प्राइस इश्यू पर दी जाती है। इसका मतलब है कि ऑनलाइन निवेशक केवल 6,213 रुपये प्रति ग्राम में गोल्ड खरीद सकते हैं।

सरकार इस बॉन्ड में सालाना 2.5 फीसदी की दर के हिसाब से ब्याज देता है। ब्याज की राशि निवेशकों के अकाउंट में हर 6 महीने में डिपॉजिट हो जाता है।

कैसे खरीदे सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को आप कमर्शियल बैंक, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, क्लीयरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, डेजिग्नेटेड पोस्ट ऑफिस, एनएसई और बीएसई के जरिये खरीद सकते हैं।

निवेशक इन प्लेटफॉर्म पर इसे बेच सकते हैं। बाजार में मौजूदा कीमत पर आप इसे बेचा जा सकता है।

कौन खरीददारी

केंद्रीय बैंक द्वारा जारी बॉन्ड पर रिटर्न मिलता है। निवेशक न्यूनतम 1 ग्राम और अधिकतम 4 ग्राम गोल्ड खरीद सकते हैं। यह बॉन्ड भारतीय निवासी, अविभाजित हिंदू परिवार (HUF), ट्रस्‍टों, विश्वविद्यालयों और धर्मार्थ संस्‍था द्वारा खरीदा जा सकता है।